बॉलीवुड अभिनेत्री सनी लियोन के वैसे तो करोड़ों फैंस हैं लेकिन उनका विरोध करने वालों की भी कमी नहीं है। या फिर यूं कहें कि सनी लियोन का विवादों से पुराना नाता है। ऐसा ही उनसे जुड़ा एक विवादित मामले ने तूल पकड़ना शुरू कर दिया है। उन पर आरोप है कि सांस्कृतिक मूल्यों को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है जिसकी शिकायत केंद्र सरकार से भी की गई है।


बताया जा रहा है कि गुजरात के कुछ शहरों में कंडोम निर्माता कंपनी मेनफोर्स ने सनी लियोन की फोटो लगी होर्डिंग्स लगाई गई हैं। इस पर आपत्ति जताते हुए कुछ संगठनों ने तत्काल इन होर्डिंग्स को हटाने की मांग की है और इसकी शिकायत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान से लिखित तौर पर की है।

कॉन्फिडिरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स ने केंद्रीय मंत्री पासवान को लिखे शिकायती पत्र में कहा, ‘त्यौहार के मौके पर गुजरात के ज्यादातर शहरों में मैनफोर्स के बैनर सांस्कृतिक मूल्यों के खिलाफ हैं। ये युवाओं को मैनफोर्स कॉन्डम इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे है। सड़कों पर सनी लियोन के ऐसे विज्ञापन लगाना मार्केटिंग की बेहूदा स्ट्रैटजी है।’ हालांकि सम्बंधित होर्डिंग्स में ‘कॉन्डम’ शब्द का इस्तेमाल नहीं है। लेकिन उसमें मैनफोर्स लोगो साथ ‘प्ले, लव और नवरात्रि’ शब्द लिखे हुए हैं।

शिकायत में कंपनी पर त्योहार की आड़ में भावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है। वहीं संगठन का कहना है कि सनी लियोन गैर-जिम्मेदाराना। लोगों ने शिकायत में दोनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।