दिल्ली पुलिस ने नए साल के मौके पर स्पेशल सेल की मदद से 12 करोड़ रुपये की साढ़े तीन किलो हेरोइन पकड़ी है। साथ ही दो लोगों को भी गिरफ्तार किया गया। पंजाब में सप्लाई करने के लिए ड्रग्स की ये खेप पाकिस्तान से अफगानिस्तान के रहते देश तक पहुंची। ड्रग्स तस्करी में पकड़े गए आरोपी रविशंकर और विकास उर्फ भोला ड्रग्स सिंडिकेट के दिग्गज नामों में शुमार हैं।

रविशंकर इससे पहले भी तीन बार ड्रग्स के मामले में दोषी बन चुका है। उस पर ड्रग्स के कुल 19 मामले दर्ज हैं। पंजाब में रविशंकर ने एक बड़ा नेटवर्क तैयार किया हुआ था। इससे पहले भी पिछले एक साल में ये आरोपी करीब 50 किलो ड्रग्स की खेंप देश के अलग अगल राज्यों में सप्लाई कर चुका है।2012 में जेल से बाहर आने के बाद से लगातार रविशंकर भारत में ड्रग्स रेकेट से जुड़े तस्करों से जुड़ा हुआ था। पाकिस्तान-अफगानिस्तान से ड्रग्स की ये खेंप फ्लाइट से इंडिया आती थी जिसके बाद इसे कोरियर से भारत के अलग-अलग जगहों पर सप्लाई किया जाता था।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के मुताबिक दवाइयों के कैप्सूल में छुपाकर ड्रग्स की ये खेंप भारत में सप्लाई हो रही थीं। फिलहाल सेल की टीम पकड़े गए दोनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।